7.8 C
New York
Thursday, January 28, 2021
Home Movies News Farmers Protest: Agriculture Minister Narendra Singh Tomar Said Government An Farmers Agreed...

Farmers Protest: Agriculture Minister Narendra Singh Tomar Said Government An Farmers Agreed On Two Issues – किसानों और सरकार के बीच पिघली तनाव की बर्फ, दो मुद्दों पर रजामंदी

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Updated Wed, 30 Dec 2020 08:46 PM IST

केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर
– फोटो : एएनआई

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

केंद्र की ओर से लाए गए तीन नए कृषि कानूनों के विरोध में आंदोलन कर रहे किसानों ने बुधवार को फिर सरकार के साथ बातचीत की। इस वार्ता के बाद केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने बताया कि न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर सरकार ने समिति बनाने की सहमति दी है। यह किसानों और सरकारों के बीच छठे दौर की बैठक थी। अगली बैठक चार जनवरी को होगी।

उन्होंने कहा कि किसान यूनियन ने जो चार मुद्दे रखे थे, उनमें से दो पर सरकार और यूनियन के बीच सहमति हो गई है। इसमें पहला मुद्दा पर्यावरण और पराली का है, जिस पर दोनों पक्ष रजामंद हो गए हैं। दूसरा मुद्दा बिजली का था, इस पर यूनियन की मांग थी कि किसानों को सिंचाई के लिए बिजली सब्सिडी जारी रखनी चाहिए। इस पर भी सरकार व यूनियन में सहमति हो गई है।

किसान नेता टिकैत बोले, अब दो चीजें शेष रहीं
सरकार के रुख से अभी तक नाखुश नजर आए किसान नेता राकेश टिकैत आज की वार्ता के बाद संतुष्ट नजर आए। टिकैत ने कहा कि अब दो चीजें शेष रह गई हैं, उन पर चार जनवरी को बात होगी। तब तक किसानों का शांतिपूर्ण धरना जारी रहेगा। आज अच्छे माहौल में बात हुई। सरकार ने आज हमारी दो बातें मान ली हैं। सरकार लाइन पर आई है, हम आज की वार्ता से खुश हैं।

एमएसपी जारी है और जारी रहेगी: कृषि मंत्री
कृषि मंत्री ने कहा कि मुझे इस बात की खुशी है कि किसान यूनियन के नेताओं ने आंदोलन  में पर्याप्त अनुशासन बनाए रखने का प्रयत्न किया है। मुझे विश्वास है कि वे आगे भी ऐसा करेंगे। हम चार जनवरी को दोपहर दो बजे एक बार फिर मिलेंगे और एमएसपी पर चर्चा आगे बढ़ाएंगे। उन्होंने कहा कि हम पहले भी कहते रहे हैं कि एमएसपी जारी है और जारी रहेगी। तोमर ने कहा कि दिल्ली में ठंडे मौसम को देखते हुए हमने किसान नेताओं से अनुरोध किया है कि आंदोलन में शामिल बुजुर्गों, महिलाओं और बच्चों को घर वापस भेज दें। 

केंद्र की ओर से लाए गए तीन नए कृषि कानूनों के विरोध में आंदोलन कर रहे किसानों ने बुधवार को फिर सरकार के साथ बातचीत की। इस वार्ता के बाद केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने बताया कि न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर सरकार ने समिति बनाने की सहमति दी है। यह किसानों और सरकारों के बीच छठे दौर की बैठक थी। अगली बैठक चार जनवरी को होगी।

उन्होंने कहा कि किसान यूनियन ने जो चार मुद्दे रखे थे, उनमें से दो पर सरकार और यूनियन के बीच सहमति हो गई है। इसमें पहला मुद्दा पर्यावरण और पराली का है, जिस पर दोनों पक्ष रजामंद हो गए हैं। दूसरा मुद्दा बिजली का था, इस पर यूनियन की मांग थी कि किसानों को सिंचाई के लिए बिजली सब्सिडी जारी रखनी चाहिए। इस पर भी सरकार व यूनियन में सहमति हो गई है।

किसान नेता टिकैत बोले, अब दो चीजें शेष रहीं
सरकार के रुख से अभी तक नाखुश नजर आए किसान नेता राकेश टिकैत आज की वार्ता के बाद संतुष्ट नजर आए। टिकैत ने कहा कि अब दो चीजें शेष रह गई हैं, उन पर चार जनवरी को बात होगी। तब तक किसानों का शांतिपूर्ण धरना जारी रहेगा। आज अच्छे माहौल में बात हुई। सरकार ने आज हमारी दो बातें मान ली हैं। सरकार लाइन पर आई है, हम आज की वार्ता से खुश हैं।

एमएसपी जारी है और जारी रहेगी: कृषि मंत्री
कृषि मंत्री ने कहा कि मुझे इस बात की खुशी है कि किसान यूनियन के नेताओं ने आंदोलन  में पर्याप्त अनुशासन बनाए रखने का प्रयत्न किया है। मुझे विश्वास है कि वे आगे भी ऐसा करेंगे। हम चार जनवरी को दोपहर दो बजे एक बार फिर मिलेंगे और एमएसपी पर चर्चा आगे बढ़ाएंगे। उन्होंने कहा कि हम पहले भी कहते रहे हैं कि एमएसपी जारी है और जारी रहेगी। तोमर ने कहा कि दिल्ली में ठंडे मौसम को देखते हुए हमने किसान नेताओं से अनुरोध किया है कि आंदोलन में शामिल बुजुर्गों, महिलाओं और बच्चों को घर वापस भेज दें। 

Source link

adminhttps://superiorvenacava.com
Hi, my name is Gautam, I have experience in Digital Marketing, SEO Marketing, Social Media Marketing, Blogging, & Writer. Certified by Google Certificate & Certified from the Digital Marketing Institute in New Delhi.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

वजन कम करने के लिए अपनी थाली में जरूर शामिल करें ये भारतीय डिशेज

फैट (Fat) और कार्बोहाइड्रेट (Carbohydrate) के कारण भारतीय डिशेज (Indian Dishes) अक्सर डाइट प्लान (Diet Plan) का हिस्सा नहीं हो पाती हैं. चावल (Rice)...

मोबाइल रेडिएशन है सेहत के लिए हानिकारक, बचने के लिए करें ये उपाय

जब भी हम मोबाइल टावर (Mobile Tower) के आस पास से गुजरते हैं तो हमारे मन में एक डर जैसी फीलिंग आ जाती है....

पपीते के बीज किडनी से लेकर लिवर तक रखेंगे सेहतमंद, जानें फायदे

पपीता अपने स्वाद और असाधारण पोषक तत्‍वों के लिए जाना जाता है. यही वजह है कि इसे बहुत पसंद किया जाता है. साल भर...

शरीर में फुर्ती लाएंगे ये सुपर फूड्स, सुस्ती-थकान होगी दूर

काम की भाग-दौड़ में हम अक्‍सर अपना ख्‍याल ठीक से नहीं रख पाते. कई बार तो लोग सुबह उठते ही सुस्ती महसूस करने लगते...

Recent Comments

%d bloggers like this: